कटनीमध्यप्रदेशहाेम

ATM कार्ड बदलकर धोखाध़ड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का KATNI में पर्दाफाश

एटीएम कार्ड बदलकर धोखाध़ड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश

Advertisements

कटनी।  एक राज्य से दूसरे राज्य जाकर ATM कार्ड बदलकर खाते से पैसे निकालने वाले अंतरराज्जीय गिरोह का स्लीमनाबाद पुलिस ने शुक्रवार को पर्दाफाश किया है। चार आरोपितों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त की जाने वाली स्कार्पियों गाडी भी बरामद की गई है। सभी आरोपित उत्तरप्रदेश के रहने वाले हैं, जिन पर यूपी के अलग-अलग थानों में आईटी एक्ट के तहत कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। इन्हीं आरोपितों ने 22 सितंबर को स्लीमनाबाद के एटीएम में भी वारदात करना स्वीकार किया।

स्लीमनाबद थाना प्रभारी संजय दुबे ने बताया कि ग्राम तिहारी निवासी रामस्वरूप कुशवाहा 21 सितंबर को स्लीमनाबाद एसबीआई के एटीएम में पैसे निकालने गए थे। जिनके साथ आरोपितों ने धोखाधडी कर खाते से 27 हजार रुपये निकाल लिए थे। जिसकी शिकायत पीडित ने थाना में दर्ज कराई थी।

मामले की गंभीरता देखते पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन आदेश एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनोज केड़िया तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस स्लीमनाबाद मोनिका तिवारी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी स्लीमनाबाद निरीक्षक संजय दुबे ने अपनी टीम के साथ 50 से अधिक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाले। घटना के बाद कंट्रोल रूम कटनी में भी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर तकनीकी साक्ष्‌यों के अलावा आरोपितों के संभावित मूवमेंट जानकारी जुटाई गई।

दमोह और सागर जिलों की तरफ रवाना की एक टीमः

सीसीटीवी से जुटाए गए तकनीकी साक्ष्‌यों के आधार पर मुखबिर तंत्र एवं सरहदी जिलों के पुलिस टीम से तालमेल स्थापित करते आरोपितों की तलाश की गई। स्लीमनाबाद थाना से एक टीम को आरोपितों की तलाश में दमोह सागर तरफ रवाना किया गया। आरोपितों मूवमेंट पर लगातार नजर रखते हुए आरोपियों को हिरासत में थाना स्लीमनाबाद लाया गया। पूछताछ के दौरान आरोपितों के धोखाधडी की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकार किया।

 18 एटीएम कार्डः

पकडे गए चार आरोपित आजमगढ निवासी उदयराज पिता रामस्वरूप चौधरी, बृजेंद्र पिता इंद्रजीत चौधरी, जौनपुर निवासी चुलबुल उर्फ सूरज पिता सुभाष केवट, वीरेंद्र पिता मक्यूराज सरोज के पास से विभिन्ना खाताधारकों के 18 एटीएम जब्त किए गए हैं। इसके अलावा 20 हजार रुपए नकद, एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी क्रमांक यूपी 62एडब्ल्यू 2612 बरामद की गई है।

यूपी और एमपी के कई जिलों में वारदातों को दिया अंजामः

इन आरोपितों ने उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश के कई जिलो में वारदातों को अंजाम दिया है। आरोपितों पर थाना दुढी जिला सोनभद्र उत्तरप्रदेश में धोखाधडी कर 84 हजार रुपए निकाले जाने पर अपराध है। मऊ उत्तरप्रदेश में 10 हजार रुपये की धोखाधडी करने, थाना विंध्यनगर जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश में धोखाधडी कर 24 हजार रुपये निकालने, थाना मैहर जिला सतना में धोखाधडी कर 38 हजार रुपये निकालने के मामले दर्ज हैं।

 

गिरोह का पर्दाफाश करने में ये रहे शामिलः

गिरोह का पर्दाफाश करने में थाना स्लीमनाबाद से उपनिरीक्षक संतराम यादव, सहायक उपनिरीक्षक अनुराग पाठक, प्रधान आरक्षक अंजनी मिश्रा, जय सिंह, अंकित दुबे, आरक्षक आशीष सोनी, सोने सिंह, रोहित सिंह, देवेन्द्र विश्वकर्मा, राजा साहू एवं थाना माधवनगर से आरक्षक अविनाश चौहान, एसपी कार्यालय से आरक्षक शुभम गौतम, चंदन प्रजापति, अमित श्रीपाल, प्रशांत विश्वकर्मा, सत्येन्द्र सिंह राजपूत एवं रविन्द्र शर्मा ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी स्लीमनाबाद एवं उनकी टीम के कार्य की सराहना करते हुए उन्हें पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें-  कटनी RTO आफिस जाने पर लगने वाले टोल टैक्स से जल्द मिलेगी मुक्ति
Show More
Back to top button