Ram Mandir: राम मंदिर ट्रस्ट की पहली बैठक खत्म, महंत नृत्य गोपालदास को बनाया गया अध्यक्ष


राममंदिर ट्रस्ट की पहली बैठक बुधवार को नई दिल्ली के ग्रेटर कैलाश स्थित ट्रस्ट के आधिकारिक कार्यालय में हुई। इस बैठक में राममंदिर आंदोलन के खास किरदार रहे महंत नृत्यगोपाल दास को ट्रस्ट का अध्यक्ष घोषित किया गया। इस संबंध में और अधिक जानकारी देने के लिए ट्रस्ट की ओर से थोड़ी देर में प्रेस कांफ्रेंस भी की जाएगी।

ये हुआ ट्रस्ट की बैठक में…
  • ट्रस्ट की पहली बैठक काफी अहम रही। इसमें नौ प्रस्ताव पारित किए गए हैं। महंत नृत्यगोपाल दास को ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाए जाने के साथ ही विहिप के नेता चंपत राय को महासचिव बनाया गया है।
  • वहीं कोषाध्यक्ष का पद गोविंददेवगिरि महाराज को दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा को भवन निर्माण समिति का चेयरमैन नियुक्त किया गया है।
  • दिल्ली की फर्म वी. शंकर अय्यर एंड कंपनी, रंजीत नगर, पटेल नगर, नई दिल्ली को ट्रस्ट के चार्टर्ड अकाउंटेंट के लिए नियुक्त किया गया है। यह कंपनी ट्रस्ट के लेखा-जोखा से संबंधित सभी वैधानिक कार्य करेगी।
  • अयोध्या के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में ट्रस्ट का बैंक खाता खोला जाएगा। इसका संचालन स्वामी गोविंददेव गिरि, चंपतराय, डॉ. अनिल कुमार मिश्र में से किन्ही दो के संयुक्त हस्ताक्षरों से हो सकेगा।

पहली बैठक में ये लोग रहे मौजूद
  • इनके अलावा पहली बैठक में के. पारासरन, स्वामी नृत्यगोपालदास महाराज, स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती महाराज, युगपुरुष स्वामी परमानंद महाराज, स्वामी विश्वप्रसन्नतीर्थ महाराज, स्वामी गोविंददेव गिरि महाराज, महंत दिनेंद्र दास महाराज, विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र, डॉ. अनिल मिश्रा और कामेश्वर चौपाल मौजूद रहे।
  • बैठक में भारत सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर अतिरिक्त सचिव गृह विभाग ज्ञानेश कुमार, उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर आईएएस अवनीश अवस्थी और अयोध्या के जिलाधिकारी आईएएस अनुज कुमार झा इस दौरान मौजूद रहे।

सबसे पहले क्या हुआ बैठक में.. 
  • श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र (ट्रस्ट) की ओर से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, ट्रस्ट की पहली बैठक शुरू होने पर सबसे पहले 1528 ई. से लेकर वर्तमान समय तक कि मंदिर आंदोलन से जुड़े रहे साधु-संतों और श्रद्धालुओं को श्रद्धांजलि समर्पित की गई।
  • इसके बाद केंद्र सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार और देश की न्यायिक व्यवस्था के प्रति आभार जताया गया। इसके बाद ट्रस्ट के पदाधिकारियों के नाम नामित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *