सागर में जिंदा जलाए गए दलित युवक की मौत पर सियासत शुरू

भोपाल। मध्य प्रदेश के सागर जिले में दलित युवक को जिंदा जलाए जाने के बाद नई दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसकी मौत के बाद प्रदेश की राजनीति काफी गरमाई हुई है। वहीं इसको लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर राज्य की कमलनाथ सरकार की जमकर आलोचना की है।

शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा है कि कमलनाथ जी, घटना के समय आपकी सरकार और पुलिस कहां थी। इसके बारे में बताइए। अब ट्वीट कर एहसान जता रहे हैं कि हमारी सरकार ने मेडिकल सुविधा उपलब्ध करा दी। एयरलिफ्ट करा कर दिल्ली भेज दिया। घर का चिराग चला गया और सरकार एहसान गिना रही है, शर्मनाक।
कमलनाथ जी, घटना के समय आपकी सरकार और पुलिस कहाँ थी, बताइए ?

अब ट्वीट कर एहसान जता रहे हैं कि हमारी सरकार ने मेडिकल सुविधा उपलब्ध करा दी , एयरलिफ्ट करा कर दिल्ली भेज दिया। घर का चिराग चला गया और सरकार एहसान गिना रही है। शर्मनाक!

— Shivraj Singh Chouhan (@ChouhanShivraj)
कुछ दिन पूर्व भी धन प्रसाद के भाई की पत्नी के साथ इन्ही दबंगों ने मारपीट की तब भी यह सरकार मौन थी। उसी समय पुलिस ने जरूरी कदम उठाए होते तो शायद आज मध्यप्रदेश को अपने एक नागरिक के जीवन से हाथ नहीं धोना पड़ता। कांग्रेस सीधे तौर पर अपराधियों को बचा रही है।

युवा धन प्रसाद को जिंदा जला देने वाले दबंगों की संख्या 30-40 थी। यह बात पड़ोसियों ने सबको बताई, लेकिन कमलनाथ जी की पुलिस ने केवल 5 लोगों पर एफआईआर दर्ज किया। क्या सरकार की शह पर पुलिस बहरी बन गई थी और अपराधियों को अपना मौन समर्थन दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *