पुलिस की वर्दी में आए, अपहरण किया और लूट लिए 10 लाख

कटनी। (विवेक शुक्ला) कोतवाली के नईबस्ती क्षेत्र में व्यापार के सिलसिले में घर से दिल्ली के लिए निकले मोबाइल कारोबारी के साथ दस लाख रूपए की सनसनीखेज लूट का मामला प्रकाश में आया है। अपनी दुकान के कर्मचारी के साथ घर से बाइक पर मुड़वारा स्टेशन के लिए रवाना हुए मोबाइल कारोबारी को घर के समीप से ही सफेद रंग की बुलेरो में पुलिस की वर्दी में सवार होकर आए बदमाशों ने पहले नौकर सहित गाड़ी में बैठा लिया और इसके बाद निवार के समीप ले जाकर मारपीट करते हुए सूटकेस में रखे दस लाख रूपए लेकर चंपत हो गए। वारदात के बाद कारोबारी निवार चौकी पहुंचा। जहां पुलिस को वारदात की प्रारंभिक जानकारी दी। इसके बाद आज सुबह कोतवाली पहुंच कर शिकायत दर्ज कराई। पुलिस मोबाइल कारोबारी के बयान के आधार पर मामला दर्ज करते हुए आरोपियों की तलाश में जुट गई है। इस संबंध में हासिल जानकारी के मुताबिक नईबस्ती सावरकर वार्ड निवासी सुमित भाटिया की सब्जी मंडी क्षेत्र स्थित गुरूनानक मार्केट में मोबाइल की दुकान है। जिसमें माधवनगर के बंगला लाइन क्षेत्र निवासी हनी सोनी नामक युवक बतौर कर्मचारी काम करता है। बताया जाता है कि सुमित व्यापार के सिलसिले में अक्सर दिल्ली जाता रहता है। उसे कल गुरूवार की रात भी मुड़वारा स्टेशन से गुजरने वाली छत्तीसगढ़ संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से दिल्ली जाना था। इसलिए वो कल गुरूवार को दुकान का काम जल्दी बढ़ाकर घर पहुंच गया और स्टेशन तक बाइक से छोड़ने कर्मचारी हनी सोनी को भी साथ ले आया। पुलिस के मुताबिक सूटकेस में अन्य सामान के साथ दस लाख रूपए रखकर सुमित बाइक में जैसे ही कर्मचारी हनी सोनी के साथ मुड़वारा स्टेशन के लिए रवाना हुआ। उसीदौरान मकान से लगभग 100 मीटर की दूरी पर एक सफेद रंग की बुलेरो में सवार पांच बदमाशों ने सुमित व हनी को गाड़ी में बैठा लिया। इसके बाद बदमाश दोनों को निवार के समीप ले गए और मारपीट कर दस लाख रूपए व दोनों के मोबाइल लूट कर चंपत हो गए। घटना के बाद सुमित व हनी समीपस्थ निवार चौकी पहुंच कर पुलिस को वारदात से अवगत कराया और आज सुबह कोतवाली पहुंच कर शिकायत दर्ज कराई। पुलिस अज्ञात बदमाशों के विरूद्ध मामला दर्ज कर उनकी तलाश में जुट गई है।
पुलिस की वर्दी में थे बदमाश एक जानकारी में वारदात का शिकार हुए मोबाइल कारोबारी सुमित ने बताया कि सफेद रंग की बुलेरो जीप में आए पांच में से तीन बदमाश पुलिस की वर्दी में थे और उन्होने बाइक रोककर यह कहते हुए गाड़ी में बैठाया कि टीआई साहब किसी मामले में पूछताछ के लिए थाने बुलाए हैं। जिसके बाद वह तथा उसका कर्मचारी बुलेरो में बैठ गए।

बीच रास्ते में आंखों में बांधी पट्टी
सुमित भाटिया ने बताया कि गाड़ी में बैठाने के बाद बदमाश मानसरोवर कालोनी तक आंख खूली रखकर लेकर गए तथा मानसरोवर कालोनी के पास आखों में पट्टी बांध दी और इसके बाद निवार के समीप ले गए। जहां मारपीट करते हुए दस लाख रूपए व मोबाइल लूट लिया और कपड़े उतारने के बोले लेकिन वह बदमाशों को धक्का देकर भाग निकला।
डेढ़ करोड़ रूपए की लूट का क्षेत्र में हल्ला
ऊधर वारदात के बाद क्षेत्र में यह हल्ला है कि मोबाइल कारोबारी के साथ लगभग डेढ़ करोड़ रूपए की लूट हुई है लेकिन वह आयकर विभाग व पुलिस की कार्रवाई से बचने दस लाख रूपए की लूट बता रहा है। क्षेत्र में हो रही चर्चाओं की माने तो मोबाइल कारोबारी मोबाइल के कारोबार के साथ हवाला के कारोबार में भी जुड़ा था तथा वह व्यापारियों का कालाधन भी हवाला कारोबार के माध्यम से सफेद करता था। वह कलरात अपने साथ लगभग डेढ़ करोड़ रूपए लेकर घर से निकला था। इसलिए लूट डेढ़ करोड़ रूपए की बताई जाती है जबकि मोबाइल कारोबारी सुमित भाटिया ने दस लाख रूपए की लूट होना पुलिस को बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *