मिल-बांचें: मंत्री, विधायक, कलेक्टर सहित गणमान्य जन बने साक्षी

कटनी। प्रदेश में शासकीय प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों में पढ़ाई के प्रति रूचि जागृत करने के मकसद से आज  प्रदेशव्यापी ’’मिले-बाँचे’’ कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस कार्यक्रम में जिले के जनप्रतिनिधि तथा अधिकारियों ने स्कूल पहुंच कर बच्चों से अपने विचार साझा किये। प्रदेश सरकार इस अभिनव अभियान से राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग राज्यमंत्री श्री संजय सत्येन्द्र पाठक भी जुड़े। वे विजयराघवगढ़ विकासखण्ड की माध्यमिक शाला हथेड़ा व् हदरहटा पहुंचे। जहां पर उपस्थित विद्यार्थियों के टीचर बनकर राज्यमंत्री श्री पाठक ने छा़त्रों को सामान्य ज्ञान की जानकारी देने के साथ ही देशप्रेम, स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण का पाठ पढ़ाया। अपनी क्लास में व्यक्तित्व विकास की स्पेशल टिप्स भी राज्यमंत्री ने दी। श्री पाठक ने विद्यार्थियों से कहा कि झिझकें नहीं, मुखर हों। अपनी बात रखें और लीड करना सीखें। ताकि अपने समाज को, अपने गांव को, अपने प्रदेश को और अपने देश को आंगे ले जा सकें।
विधायक संदीप जायसवाल वेंकट वार्ड स्कूल में बच्चों से मिले

 मिल बांचे अभियान में विधायक संदीप जायसवाल ने भी वॉलियंटियर के रूप में अपना पंजीयन कराया। विधायक श्री जायसवाल ने वेंकट वार्ड स्थित वेंकट हायर सेकेण्डूरी विघालय कटनी पहुंचकर स्कूल के बच्चों के साथ अपना अनुभव साझा किये।
खेल सामग्री हेतु राशि 15000 दिये जाने की घोषणा
विधायक संदीप जायसवाल द्वारा बच्चों से उनकी हाबी एवं अन्य चाही गयी सामग्री की जानकारी ली, जिसपर बच्चों  द्वारा फुटबाल, क्रिकेट सामग्री, बैटमिंटन, कैरम इत्यादि सामग्री दिलाये जाने की मांग की गयी, जिस पर विधायक द्वारा राशि 15000रूपये प्रदान किये  जाने की घोषणा की।
विधायक संदीप जायसवाल द्वारा जानकारी दी गयी कि वेंकट स्कूल के विघार्थियों को बैठने हेतु बैंच फर्नीचर हेतु राशि 3 लाख रूपये दी गयी है, जिससे शीघ्र ही विघार्थियो को बेंच में बैठकर पढने की सुविधा मिल सकेगी।
जिला पंचायत उपाध्यक्ष अशोक विश्वकर्मा पहुंचे ग्राम हिरवारा
राज्य शासन की अभिनव पहल के कार्यकम मिल बांचे मध्यप्रदेश के तहत जिला पंचायत उपाध्यक्ष अशोक विश्वकर्मा ने शासकीय प्राथमिक शाला हिरवारा में अध्यनरत विद्याथियों से अपने अनुभव साझा किया और संस्कृति एवं शिक्षा के विषयो पर चर्चा की। कार्यकम में अशोक विश्वकर्मा द्वारा विद्याथियों को प्रेरणादायी प्रसग सुनाये। साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में संचालित विभन्न योजनाओ जैसे मुख्यमंत्री मेधावी छात्र योजना की जानकारी प्रदान की। उन्होने प्रेरित किया कि सभी विद्यार्थी पूरी मेहनत करें। उनकी पढाई की चिंता एवं शुल्क की पूर्ति राज्य सरकार करेगी। कार्यकम में जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री विश्वकर्मा द्वारा विद्यालय के लिये 02 नग पंखो एवं विद्याथियों को नेतिक शिक्षा की पुस्तके प्रदान की गई।   
कलेक्टर सपत्नीक बने मिल बांचे के साक्षी
कलेक्टर विशेष गढ़पाले सपत्निक मिल-बॉंचें कार्यक्रम में शामिल हुये। बतौर वॉलियंटियर कलेक्टर शासकीय माध्यमिक एवं प्राथमिक शाला झिंझरी पहुंचे। यहां पर उन्होने बच्चों से संवाद किया। रोचक किस्से कहानियों के माध्यम से बच्चों को जीवन में सफलता अर्जित करने के टिप्स उन्होने दिये। उन्होने अपने स्कूल के समय के कुछ पलों को बच्चों के बीच साझा किया। सहज और सरल तरीके से कलेक्टर ने विद्यार्थियों को कमजोर विषय की तैयारी करने की बात कही। गौरतलब है कि शनिवार को पूरे प्रदेश के साथ-साथ जिले में भी मिल-बांचें कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने शासकीय माध्यमिक शाला झिंझरी और श्रीमती रशिम विशेष गढ़पाले ने प्राथमिक शाला झिंझरी में वॉलियंटियर के रुप में पंजीयन कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *