शिखर सम्मेलन : स्टार्टअप फंडिंग पर जी-20 ने की भारत की तारीफ

हैम्बर्ग। आर्थिक सुधारों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से उठाए गए कदम की जी-20 ने तारीफ की है। शिखर सम्मेलन समाप्त होने के बाद दुनिया के सबसे ताकतवर देशों के समूह ने एक्शन प्लान जारी किया।
इसमें भारत द्वारा स्टार्टअप फंडिंग, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस (व्यापार सुगमता), श्रम सुधार आदि को लेकर उठाए गए कदम की प्रशंसा की गई है। इसे सतत और समावेशी विकास के लिए बेहतर बताया गया है।
मोदी सरकार ने एक जुलाई को देश में सबसे बड़े कर सुधार वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को भी सफलतापूर्वक लागू किया है। हैम्बर्ग एक्शन प्लान में इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म विकसित करने के लिए भी भारत की तारीफ की गई है।
स्टार्टअप के लिए एक्सटर्नल कमर्शियल बोरोइंग (ईसीबी) की सुविधा मुहैया कराने के कदम को इनोवेशन और व्यापार सुगमता को बढ़ाने में कारगर बताया गया है।
जी-20 के सदस्य देशों ने हाल में ही संरचनात्मक सुधार और सतत विकास की गति को बरकरार रखने के लिए इस तरह के कदम उठाए हैं।
एक्शन प्लान में कहा गया , ‘भारत द्वारा लागू किए जा रहे श्रम सुधार से कामगारों को सुरक्षा मिलने के अलावा महिलाओं की भागीदारी बढ़ेगी और देश में व्यापार करना आसान होगा।’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में भारत को शीर्ष 50 देशों में शामिल कराना चाहते हैं। पिछले साल भारत को इस सूची में 130वां स्थान मिला था।
इस साल के अंत में नई सूची आने की संभावना है। इसे देखते हुए हैम्बर्ग एक्शन प्लान में भारत को दी गई तवज्जो बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *