Advertisements

स्ट्रांग रूम से मतगणना हॉल तक निगरानी रखना चाहती है कांग्रेस

नेहरू स्टेडियम में 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना को लेकर कांग्रेस छोटी-छोटी बातों पर ध्यान दे रही है।
इंदौर। नेहरू स्टेडियम में 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना को लेकर कांग्रेस छोटी-छोटी बातों पर ध्यान दे रही है। उसे आशंका है कि स्ट्रांग रूम से मतगणना स्थल तक ईवीएम लाने के दौरान भी कोई गड़बड़ी हो सकती है। रविवार को कलेक्टर निशांत वरवड़े ने कांग्रेस उम्मीदवारों और प्रतिनिध्ाियों को मतगणना स्थल का दौरा कराया तो कांग्रेस जिला अध्यक्ष सदाशिव यादव ने मांग रखी कि स्ट्रांग रूम से मतगणना स्थल तक ईवीएम लाने के दौरान हमारे भी एक- दो कार्यकर्ता रहना चाहिए। हालांकि कलेक्टर ने इससे इंकार कर दिया। फिर भी इस बारे में उन्होंने आयोग से बात करने का आश्वासन दिया है।

रविवार को कांग्रेस उम्मीदवार जीतू पटवारी, तुलसी सिलावट, अश्विन जोशी, संजय शुक्ला, विशाल पटेल, सुरजीत चड्ढा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल को कलेक्टर ने स्ट्रांग रूम की सुरक्षा और मतगणना स्थल का निरीक्षण कराया। उम्मीदवारों को बताया गया कि विधानसभा राऊ, सांवेर, इंदौर-3, 4 और 5 का स्ट्रांग रूम स्टेडियम की पहली मंजिल पर बना है लेकिन इनके वोटों की गिनती तल मंजिल पर बने हॉल में की जाएगी।

पहली मंजिल पर बने स्ट्रांग रूम से ईवीएम नीचे लाई जाएगी। इस दौरान यादव ने ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जताई। उनके दो कार्यकर्ताओं के निगरानी के लिए चलने की परमिशन की मांग पर कलेक्टर ने कहा कि ईवीएम के साथ जज, बड़े स्तर के तीन अधिकारी और गनमैन रहेंगे, इसलिए गड़बड़ी की आशंका नहीं है।

राऊ की गिनती दो हॉल में क्यों? : राऊ विधानसभा की मतगणना दो हॉल में करने की व्यवस्था पर पटवारी ने आपत्ति ली कि जिस इंदौर-5 की मतगणना में अधिक राउंड हैं, उसके वोटों की गिनती तो एक ही हॉल में की जा रही है, तो राऊ की गिनती दो हॉल में किसलिए? इस पर कलेक्टर ने बताया कि एक ही जगह गिनती करना संभव नहीं हो पा रहा था। अब सारे इंतजाम हो चुके हैं। तब पटवारी ने कहा कि गिनती के दौरान दोनों हॉल में एआरओ रहना चाहिए जिस पर कलेक्टर ने सहमति जताई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *